अमेरिकियों को भरोसा नहीं अपने मीडिया पर लेकिन भारतीयों को है

नेमो ब्यूरो

आधे से थोड़े कम अमेरिकी अपने देश के मीडिया पर भरोसा नहीं करते हैं और मानते हैं कि वे बिकाऊ हैं और उनकी ख़बरें निष्पक्ष नहीं हैं. जबकि भारत में 72 प्रतिशत लोग देश के मीडिया पर भरोसा करते हैं और मानते हैं कि वे सही खबर कर रहे हैं. और तो और, अमेरिकी राष्ट्रपति खुद अपने देश के ज्यादातर मीडिया पर भरोसा नहीं करते हैं.

सोशल मीडिया के जमाने में जब तेजी से ‘फेक न्यूज’ और ‘फेक मीडिया’ जैसे टर्म प्रचलित हो रहे हैं, तब भी भारतीयों की एक बड़ी संख्या का मानना है कि उनकी मेनस्ट्रीम मीडिया ज्यादा निष्पक्ष है. प्यू रिसर्च के सर्वे के मुताबिक, भारतीय मीडिया निष्पक्षता के मामले में अमेरिका से भी बहुत आगे है.

अमेरिका में जहां 62 प्रतिशत लोगों का मानना है कि उनके न्यूज ऑर्गनाइजेशंस सही ढंग से रिपोर्टिंग कर रहे हैं, तो वहीं प्यू सर्वे में शामिल 80 प्रतिशत भारतीयों को लगता है कि उनके समाचार संगठनों द्वारा दिखाई जा रही खबरें ठीक होती हैं. इतना ही नहीं सिर्फ 7 प्रतिशत भारतीयों को ही लगता है कि उनकी मीडिया खबरों को तथ्यात्मक रूप से पेश नहीं करती है, जबकि अमेरिका में यह आंकड़ा 43 प्रतिशत है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घोषणा की थी कि वह अगले हफ्ते गलत रिपोर्टिंग करने वाले संस्थानों को ‘फेक मीडिया अवॉर्ड्स’ देंगे. ट्रंप ने सीएनएन, न्यू यॉर्क टाइम्स और वॉशिंगटन टाइम्स जैसे अमेरिका के प्रतिष्ठित संगठनों को भी ‘फेक मीडिया’ करार दिया था.

प्यू सर्वे के मुताबिक, 72 प्रतिशत भारतीय मानते हैं कि उनकी मीडिया सरकार के बारे में निष्पक्ष रिपोर्टिंग कर रही है. सिर्फ 10 प्रतिशत ऐसा नहीं मानते हैं। जबकि, अमेरिका में यह आंकड़ा 41 प्रतिशत है.

ताजा प्यू सर्वे के मुताबिक, भारत ही ऐसा देश है जहां 61 प्रतिशत लोग लोकल न्यूज को फॉलो करते हैं, जबकि अमेरिका में सिर्फ 40 प्रतिशत और दुनियाभर में 37 प्रतिशत लोग स्थानीय खबरों को महत्व देते हैं. सर्वे में शामिल सभी देशों में से सिर्फ भारत और इंडोनेशिया ऐसे हैं जहां, राष्ट्रीय खबरों से ज्यादा स्थानीय खबरों को ज्यादा महत्व दिया जाता है.

दूसरी तरफ, दुनियाभर में औसतन 57 प्रतिशत लोग अंतरराष्ट्रीय खबरों पर करीबी नजर रखते हैं और 16 प्रतिशत लोग बेहद करीबी से फॉलो करते हैं. भारत में यह आंकड़ा क्रमशः 53 प्रतिशत और 20 प्रतिशत है. सर्वे में शामिल सिर्फ 16 प्रतिशत भारतीय ने माना कि वे अमेरिका की खबरों को ध्यान से पढ़ते हैं. भारत में 15 प्रतिशत लोगों ने यह भी माना कि दैनिक खबरों के लिए वे सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Attention! Don\'t Copy The Content.