चलिए एक वीकेंड इवनिंग सेल्फी हो जाए…

सुधीर तम्बोली
नेमो रायपुर ब्यूरो

आजकल होटल सेल्फी, मोटेल सेल्फी, इवेंट सेल्फी और संडे सेल्फी जैसे कई नए शब्द निकल आये हैं. अब रायपुर में भी आप अपने वीकेंड की शाम मनाते हुए सेल्फी ले सकते हैं.

स्मार्ट सिटी रायपुर के आकर्षण में एक स्थान और जुड़ गया है जो यातायात सुगमता के साथ लोगो के सेल्फी लेने का पसंदीदा स्थान होने जा रहा है. यहां रात के अंधेरे में रंगबिरंगी रौशनी से जगमगाता यह आर्च ब्रिज है जिसका लोकार्पण भव्य कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने किया.

लोकार्पण कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद रमेश बैस ने की. कार्यक्रम में कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत एवं खाद्य मंत्री पून्नुलाल मोहले विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हुए. इसके अलावा संसदीय सचिव राजू सिंह क्षत्री, छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष देवजीभाई पटेल और विधायक सत्यनारायण शर्मा, विधायक श्रीचंद सुन्दरानी, नगर निगम रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे और सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा भी विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे. अतिथियों की मौजूदगी में आर्च ब्रिज के लोकार्पण पर आतिशबाजी का नजारा भी शानदार था जो देखते ही बन रहा था. लोकार्पण के बाद मुख्यमंत्री ने स्वयं आर्च ब्रिज पर पैदल चलकर ब्रिज का अवलोकन किया और ब्रिज से शहर का नजारा लिया.

रायपुर में यातायात सुविधा के विस्तार के लिए करीब 50 करोड़ की लागत से नवनिर्मित आर्च ब्रिज के चालू होने से शहर के बीच बस स्टैंड से जगदलपुर मार्ग एनएच30 को जाने के लिए बड़ी सुविधा मिलेगी. वर्तमान में यातायात के दबाव के चलते इस मार्ग पर समय ज्यादा लगता था पर आर्च ब्रिज से गुजरकर इस रास्ते मे अब कम समय लगेगा. साथ ही आर्च ब्रिज स्मार्ट सिटी के आकर्षण का केंद्र भी रहेगा जो रात में रौशनी से जगमगाएगा जिसके चलते लोगो के लिए यह नया सेल्फी पॉइंट भी रहेगा. यहां पहुँचकर जगमगाती रंगबिरंगी लाइट में अपनी और अपनों की तस्वीर लोग कैमरे में कैद करेंगे.

आर्च ब्रिज की विशेषता-
ब्रिज में दो आर्च गर्डर हैं, जो 8 करोड़ रुपए के हैं.
– यह ब्रिज 730 मीटर का है यह आर्च ब्रिज कैनाल रोड पर बना है.
– शहर में अपनी तरह का यह पहला आर्च ब्रिज है.
– यह नई राजधानी और पुराने रायपुर को जोड़ता है.
– ब्रिज के दोनों ओर लोगों की सुविधा के लिए सर्विस रोड भी बने हैं. ब्रिज पर चढ़ने- उतरने के लिए ​सीढ़ियां बनाई गई हैं, जिसपर रिंग रोड से चढ़ा उतरा जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Attention! Don\'t Copy The Content.