अब की बार, करेगी वार, मोदी सरकार

नरेश क्षत्री
नेमो ब्यूरो

प्रधानमंत्री मोदी का अपनी विदेश यात्रा के दौरान अचानक पाकिस्तान पहुँच कर वहां के तत्कालीन प्रधानमंत्री से मिलना और बधाई देना शायद आप भूल चुके होंगे क्योंकि उसके बाद पाकिस्तान की तरफ से जो कुछ हुआ, वह इसे याद रखने लायक नहीं बनाता है. लेकिन अब की बार मोदी सरकार आखिरी वार करने में बिलकुल पीछे नहीं रहेगी.

पाकिस्तान ने भारत को एक बार फिर परमाणु हमले की धमकी दी है, लेकिन इस बार एक अलग अंदाज में. इससे पहले भी वह भारत को परमाणु हमले की गीदड़भभकी दे चुका है. इस बार यह धमकी भारतीय सेनाध्यक्ष बिपिन रावत के बयान के बाद आई है.

ट्वीट का जवाब मिलेगा मैदान में

पाकिस्तान के विदेश मंत्री आसिफ ने ट्वीट करके कहा कि भारतीय सेना प्रमुख गैर जिम्मेदार बयानबाजी कर रहे हैं जो कि ठीक नहीं है. उन्होंने कहा कि यह बयानबाजी परमाणु हमले को आमंत्रित करने वाली है. आसिफ ने कहा कि अगर जनरल रावत चाहते हैं तो इस परमाणु हमले की आजमाइश कर सकते हैं. उनका संदेह दूर हो जाएगा.

लेकिन इस बार उनके ट्वीट का जवाब उन्हें ट्वीट या रीट्वीट पर नहीं मिलेगा. सेना के सूत्रों की मानें तो इस बार उसको मुंह तोड़ और लगभग आखिरी जवाब देने की तैयारी पूरी कर ली गई है.

यह कहा है हमारे सेना प्रमुख ने
गौरतलब है कि इससे पहले भारत के सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने बुधवार को कहा था कि उनकी फौज़ पाकिस्तान की ‘परमाणु धमकी’ से निपटने के लिए तैयार है और अगर सरकार आदेश दे तो भारतीय सेना पाकिस्तान की सीमा पार करने में संकोच नहीं करेगी.

और यह सब इस बार होने वाला है. सेना अब सर्जिकल स्ट्राइक के लिए नहीं बल्कि आर पार की लड़ाई के लिए पूरी तरह तैयार है.

चीन दिखा सकता है अंगूठा

अमेरिका से पूरी तरह कट चुके पाकिस्तान के लिए चीन के सहारे बचने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचा है. लेकिन चीन अपने व्यापारिक हितों के चलते पहले चार अंगुलियां और फिर आखिरी अंगूठा दिखा सकता है पाकिस्तान को.

बीबीसी कब मोदी समर्थक रहा
बीबीसी जैसे मोदी विरोधी मीडिया का यह लिखना कोई आश्चर्य पैदा नहीं करता कि इस बार भारत एशिया में अपने दो दुश्मनों से घिरने वाला है. जिसमे एक ओर पाकिस्तान और दूसरी ओर चीन है.

‘तो अंजाम के लिए तैयार रहे भारत’ शीर्षक से लिखी खबर में यह मीडिया यह भी लिखता है कि पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ़ गफूर ने भारत की तरफ़ से किसी हमले की सूरत में जवाबी कार्रवाई को लेकर आगाह किया है.

साफ़ चेतावनी

गौरतलब है कि जनरल रावत ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में साफ़ कहा था, हम पाकिस्तान की धमकी (परमाणु) का जवाब देंगे. अगर हमें सचमुच पाकिस्तानियों से मुक़ाबला करना पड़ा और अगर हमें ऐसा करने के लिए कहा गया तो हम ये नहीं कहेंगे कि हम इसलिए सीमा पार नहीं कर सकते हैं क्योंकि उनके पास परमाणु हथियार हैं. हम उनकी परमाणु धमकी का जवाब देंगे.

युद्ध जल्द ही
सूत्रों की मानें तो सर्दियां ख़तम होने के पहले ही भारत आमने सामने की लड़ाई में उतर सकता है. इस बार पाकिस्तान की भड़काने वाली कार्यवाहियों का जवाब सब्र से दिया जाए, ऐसा बिलकुल नहीं होगा.

कहना गलत नहीं होगा कि अबकी बार, करेगी वार, मोदी सरकार.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Attention! Don\'t Copy The Content.