जुड़वा बच्चों के जन्म के समय देखभाल के तरीके

नवजात शिशु की देखभाल करना बड़ा कठिन काम है. उसके खाने, पीने, सोने और रोने का ख्याल रखने के लिए हर वक्त कोई ना कोई उसके पास होना चाहिए. किसी भी व्यक्ति के लिए ये काम मुश्किल होता है लेकिन अगर आप मां हैं तो आप इस काम को अच्छे से मैनेज कर लेती हैं.

फिर भी एक ही समय में दो बच्चों को संभालने के कारण खुद में भी थकान का अनुभव होता है. पर आप थोड़ी प्लानिंग कर लें तो जुड़वाँ बच्चो को संभालना आसान हो जाता है. आइये जानते है-

एक रुटीन तैयार करें

दो नवजात शिशुओं को एक ही समय में मैनेज करने के लिए सबसे बेहतर तरीका है कि आप उनके लिए एक रुटीन बना लें.

अगर आप बिना रुके लगातार बच्चों के काम में लगे रहेंगे तो इससे आप तनाव में आ सकती हैं और थकने के बाद आप ठीक से बच्चों का देखभाल कर भी नहीं पाएंगी. रुटीन बना लेने से आप दोनों बच्चों के साथ-साथ अपने लिए भी समय निकाल पाएंगी.

यह भी देखें : जानें बच्चों में कैल्शियम की कमी के लक्षण, कारण और निवारण

बच्चों को नहलाना

जुड़वाँ बच्चो को नहलाते वक्त शुरुआत में आप अपने पार्टनर या फिर घर के किसी सदस्य का सहयोग ले सकती है.

जब भी आप बच्चे को नहलाते है तो उस समय हैंड शॉवर का उपयोग करे.

बच्चे को नहलाने से पहले ही, नहलाने के बाद इस्तेमाल की जाने वाली चीजे ध्यान से पहले ही रख ले. ताकि बाद में आपको उन्हें ढ़ूढ़ना ना पड़ें.

स्तनपान कराते वक्त

अगर आप दोनों शिशुओं के लिए स्तनों में दूध के उत्पादन को लेकर चिंतित हैं तो चिंता छोड़ दें. जब आप जुड़वा शिशुओं को जन्म देती हैं तो स्तनों में दूध का उत्पादन उसके अनुसार ही होता है.

अगर स्तन से दूध की पूर्ति नहीं हो रही है तो आप उन्हें टॉप-अप फीड दे सकती हैं. जुड़वा बच्चों को स्तनपान कराते वक्त कौन सी पॉजिशन बेहतर होती हैं, ये जानने के लिए आप कुछ किताबों की मदद ले सकती हैं.

बच्चों को सुलाना

जुड़वाँ बच्चों के सोने का एक समय भी निश्चित कर लें जिससे आप दोनों को सही समय पर सुला सकें.

उदहारण के तौर पर यदि आपका एक शिशु रो रहा है और दूसरा शांत है तो पहले शांत शिशु को सुला दें और फिर दूसरे शिशु को समय देकर उसे शांत करें.

बच्चो को घुमाना

जब भी आप बाहर टहलने का सोच रही है तो दोनों बच्चो को एक ही ट्रॉली में ले जाए जिससे वह एक साथ घुल मिल जायेंगे और परेशान भी कम करेंगे.

इस तरह के कुछ आसान टिप्स अपनाकर आप अपने जुड़वाँ बच्चे की अच्छे से देखभाल कर सकती है.

यह भी देखें :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Attention! Don\'t Copy The Content.